शारीरिक और आत्मिक शक्तियों की कुंजी है योगः गोविंद सिंह ठाकुर

इस खबर को सुनें

सुरभि न्यूज कुल्लू। सातवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में आज सर्किट हाउस मनाली के परिसर में आयोजित कार्यक्रम में शिक्षा, भाषा कला एवं संस्कृति मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने लोगों के साथ मिलकर योग के विभिन्न आसन तथा प्राणायाम क्रियाएं कीं। इस दौरान प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष धनेश्वरी ठाकुर, नगर परिषद उपाध्यक्ष मनोज लारजे, नगर पार्षदगण , कमलेश कुमारी तथा अन्य लोगों ने भी योग आसन तथा प्राणायाम क्रियाएं कीं। शिक्षा मंत्री ने कहा कि योग मन, शरीर और आत्मा को सक्षम बनाता है। जीवन में स्वस्थ तथा नीरोग रहने के लिए लोग योग को नित्य क्रम से अपने जीवन में शामिल करें। योग से मनुष्य की शारीरिक और आत्मिक शक्तियों का विकास होता है तथा आत्मिक शांति की अनुभूति होती है। योग करने वाले मनुष्य के मन में हमेशा सकारात्मक विचार रहते हैं। यही नहीं वह कभी भी तनाव और अवसाद से ग्रस्त नहीं होता। मनुष्य शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रहता है। कोई भी शारीरिक व्याधि योगी मनुष्य को पीड़ित नहीं करती और मानसिक व्याधि का भी उस पर कोई प्रभाव नहीं होता।योग हमारी मानसिक, शारीरिक एवं अध्यात्मिक शक्ति को भी सुदृढ़ करता है। योग कोविड-19 के संदर्भ में भी सहायक सिद्ध हो सकता है। उन्होंने जिला वासियों से ेआहवान किया कि वे योगासन एवं प्राणायाम द्वारा योग को जीवन का नित्यक्रम बनाएं। उन्होंने कहा कि योग दिवस को आज विश्व में एक नई पहचान मिल चुकी है। आज भारतवर्ष के साथ-साथ विश्व के कई देशों में बड़े उत्साह के साथ योग दिवस का आयोजन किया जाता है। उन्होंने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस प्रतिवर्ष 21 जून को मनाया जाता है। देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सितम्बर, 2014 में संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने भाषण के दौरान योग दिवस का प्रस्ताव दिया था। 21 जून ,2015 के दिन पहला अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया था। इस दिन महान ऋषि-मुनियों की हमारी विरासत को पूरे विश्व में एक नई पहचान मिली, जो हमारे लिए गौरव की बात है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *