प्रशासन द्वारा बीएसएल परियोजना से भूमि वापिस लेने के निर्णय को ठहराया जायज़-काहन सिंह

इस खबर को सुनें

सुरभि न्यूज़ न्यूज़(खुशी राम ठाकुर) बरोट। द्रंग भाजपा से जिला भाजपा के पूर्व महासचिव ठाकुर काहन सिंह ने प्रशासन द्वारा बीएसएल परियोजना से भूमि वापिस लेने के निर्णय को जायज़ जताते हुए कहा कि बरोट में भी वे इस मामले को उठाते रहे हैं क्योंकि शानन पर्योजना के पास बरोट व जोगिन्द्र नगर में सैंकडों बीघा भूमि बेकार पड़ी है जो कि पंजाव राज्य सरकार के अधीन आती है जिसे प्रदेश सरकार वापिस लेकर कई लंबित पड़े निर्माण व विकास कार्यों के लिए उपयोग कर सकती है। उन्होंने बताया कि वर्ष 1920 व 1976 में शानन प्रोजेक्ट प्रबन्धन द्वारा सैंकडों बीघा भूमि अधिगृहित अब बिल्कुल बेकार ही पड़ी है। जिसकी प्रदेश सरकार को विकास व निर्माण कार्यों के लिए फौरी जरूरत है। काहन सिंह ने बताया कि बरोट में स्वीकृत सामूदायिक स्वास्थय केन्द्र, पशुअस्पताल, पर्यटन परिसर, स्कूल भवन आदि के लिए धन स्वीकृत होने के बावजूद निर्माण भूमि की कमी के कारण नहीं हो पा रहा है। उन्होंने कहा कि शानन परियोजना के पास फालतू पड़ी भूमि को अगर सरकार वापिस ले लें तो यहाँ पर कई विकास कार्य सिरे चढ़ जाएंगे। पंजाव राज्य बिजली बोर्ड के कहने के कारण बरोट क्षेत्र के कहोग, जलाण, तरवाण व नमाण गाँवों को रस्ते व सड़क निर्माण भी नहीं हो पा रहे हैं। इसालिए उन्होंने सरकार से मांग की है कि शानन परियोजना की बरोट में बेकार पड़ी भूमि को वापिस लेकर स्थानीय प्रशासन को दे दें। जिस पर द्रंग के विधायक जवाहर ठाकुर का कहना है कि बरोटवासियों की यह मांग जायज़ है जिसके लिए वे विधान सभा सत्र के बाद प्रयास कर भूमि वापिस लेकर विकास कार्य के लिए उपयोग में लायेगें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *