हिम कल्याण लोक कला मंच की विशेष बैठक का किया आयोजन

इस खबर को सुनें

सुरभि न्यूज़ बिलासपुर। हिम कल्याण लोक कला मंच की विशेष बैठक मुख्य सरंक्षक श्री अमरनाथ धीमान जी, सेवानिर्वित प्रधानाचार्य एवम् श्री चन्द्रशेखर पंत जी के सान्निध्य में संपन्न हुई। सर्वप्रथम वरिष्ठ सदस्यों ने सरस्वती कि वंदना से कार्यक्रम को आगाज़ किया जिसमें प्रथम सत्र में निम्नलिखित निर्णय लिए गए:-
1. सुरेंद्र मिन्हास जी ने हिम कल्याण लोक कला मंच के लेखक संघ में विलय और संघ की वर्तमान स्थिति पर चर्चा की।
2.कार्यकारिणी का चुनाव किया गया।
3.मंच के पंजीकरण के लिए तीन सदस्य कमेटी का गठन किया गया, 1. अमरनाथ धीमान  2 .रविन्द्र चन्देल कमल 3.सुरेंद्र मिन्हास।
4. आगामी बैठक 14 नवंबर 2021 को ” बिलासपुर पब्लिक स्कूल” लुहनू बिलासपुर में करने का निर्णय लिया गया।
कार्यकारिणी
1.मुख्य प्रबंधक – श्री चन्द्रशेखर पंत
2.मुख्य सरंक्षक –  श्री अमरनाथ धीमान
3.मुख्य सलाहकार – श्रीमति ललिता कश्यप
4.अध्यक्ष – श्री सुरेन्द्र मिन्हास
5.उपाध्यक्ष –  श्री बुद्धि सिंह चंदेल
6.महासचिव –  श्रीमति रक्षा ठाकुर
7.कार्यालय सचिव –  श्री राजपूत देवेन्द्र ठाकुर
8.कोश सचिव – श्री अभिषेक टेसू
9.लोक संपर्क सचिव –  श्री रविन्द्र चंदेल कमल
10.संगठन सचिव – श्री विपन कुमार चंदेल
11.सदस्य –  डॉ हेमा ठाकुर
12. ”   श्रीमति शीला सिंह
13. ”   श्रीमति विजय कुमारी सहगल
14. ”   सुश्री वंदना भट्ट
15. ”   श्रीमति विपाशा चंदेल
16. ”   श्री लश्करी राम
17. ”   श्रीमति बीना वर्धन
18. ”   श्री जावेद खान
19. ”   श्रीमति वीना कुमारी
20. ”   श्री जावेद इकबाल
21. ”   श्री सीता राम
टंकण विशेषज्ञ – श्री पंकज शर्मा
हिम कल्याण लोक कला मंच ने साहित्य के क्षेत्र में विशिष्ट उपलब्धियों के लिए बुद्धि सिंह चंदेल और राजपूत देवेन्द्र ठाकुर को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।
द्वितीय सत्र – ऑनलाइन एवम् ऑफलाइन कवि गोष्ठी
कवि गोष्ठी अध्यक्षता – बुद्धि सिंह चंदेल जी
मंच संचालन- राजपूत देवेन्द्र ठाकुर
1.ललिता कश्यप – आज चांदनी की नगरी में
2. रविन्द्र चंदेल कमल – सास बहू के किस्से मशहूर है जग में , एक सेर तो दूसरा सवा सेर ”
3. सुरेंद्र मिन्हास – बेचारी औरत दिल में ममता आंख में पानी,इधर वो शराबी बेखबर सो रहा
4. चन्द्रशेखर पंत – बेजुबां हो गए थे जब चल दिए तुम
5. अमरनाथ धीमान – दर्दे दिल को बतलाने की जरूरत क्या है (ग़ज़ल)
6. राजपूत देवेन्द्र ठाकुर – करवाचौथ विशेष पर्व रचना
7. बुद्धि सिंह चंदेल – मेरे प्रदेश की महिमा
8. तृप्ता वर्धन – चंदा का प्यार एवम् वीना वर्धन,विजय कुमारी सहगल,वंदना भट्ट,रक्षा ठाकुर, विपाशा चंदेल, मनोज कुमार शिव, जावेद खान,जावेद इकबाल, यशपाल चंदेल, विपिन चंदेल, अभिषेक टेसू, गायत्री देवी, रेणु कुमारी ने अपनी रचनाएं प्रस्तुत की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *