डोर-टू-डोर सूखा तथा गीला कूड़ा-कचरा एकत्रीकरण को सुनिश्चित करें पंचायतें

इस खबर को सुनें

सुरभि न्यूज़ कुल्लू। जिला पर्यटन विकास विभाग कुल्लू द्वारा शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में डोर-टू-डोर से कूड़ा-कचरा एकत्रीकरण एवं निस्तारण को लेकर आज उपायुक्त आशुतोष गर्ग की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया जिसमें पर्यटन विकास विभाग के अतिरिक्त विभिन्न विभागों के अधिकारियों तथा पंचायत प्रतिनिधियों ने भाग लिया। उपायुक्त ने सभी पंचायत प्रतिनिधियों को निर्देश दिए कि वे अपनी-अपनी पंचायतों में प्रतिदिन वैंडर के माध्यम से डोर-टू-डोर गीला तथा सूखा कूड़ा-कचरा उठवाकर इसे रांगड़ी स्थित कूड़ा निस्तारण संयत्र में भेजना सुनिश्चित करें ताकि जिला में सभी शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों को स्वच्छ व सुंदर बनाया जा सकें। उन्होंने कहा कि पुराने सभी  कूड़ा-कचरा डपिंग स्थलों को बंद कर दिया जाए तथा वहां पर पेड़-पौधे अथवा किसी देव स्थल के रूप में विकसित करें ताकि लोग अपने घरों का कूड़ा-कचरा वहां न फैंके। सम्बंधित ग्राम पंचायतों द्वारा उनके क्षेत्र में ऐसे कूड़ा-कचरा स्थलों को महिला मंडलों तथा स्वयं सहायता समूहों को उनके द्वारा तैयार किए गए उत्पादों की विक्री स्थल के रूप में भी विकसित किया जा सकता है। इससे लोगों की देवता के प्रति आस्था भी बनी रहेगी, लोगों को स्वयं सहायता समूहों द्वारा स्थानीय तौर पर तैयार किए गए उत्पाद भी घर के नजदीक उपलब्ध होंगे तथा क्षेत्र में स्वच्छता का वातावरण भी बना रहेगा। उन्होंने कूड़ा-कचरा एकत्रीकरण को लेकर समय निर्धारित करने के भी पंचायत प्रतिनिधियों को निर्देश दिए। उपायुक्त ने पंचायत प्रधानों को कहा कि कुछ चयनित कूड़ा-कचरा स्थलों पर सीसीटीवी कैमरे स्थापित किए जाएं तथा चोरी-छुपे अनाधिकृत स्थलों पर कूड़ा-कचरा फैंकने वालों के चालान किए जाएं । इन स्थलों पर कूड़ा-कचरा न फैंकने को लेकर जागरूकता संदेश लगाए जाएं तथा व्यक्तिगत स्तर पर भी अपनी पंचायत में लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया जाए। उन्होंने कहा कि नगर परिषद भी कमर्शियल क्षेत्रों में प्रतिदिन सूखे तथा गीले कचरे को एकत्रित करवाना सुनिश्चित करें। जिला पर्यटन विकास अधिकारी तथा विकास खंड अधिकारी को निर्देश दिए कि वह कमर्शियल एरिया में होटलियर्स एसोसियेशन के  साथ बैठक करें, नियमित रूप से उपरोक्त कार्यों की मॉनीटरिंग करें तथा कूड़ा-कचरा का उचित रूप में एकत्रीकरण व निस्तारण सुनिश्चित करें। इस अवसर पर जिला पर्यटन विकास अधिकारी राजेश भंडारी, एसडीएम मनाली सुरेन्द्र ठाकुर, विकास खंड अधिकारी नग्गर मुकेश कुमार, कार्यकारी अधिकारी एमसी कुल्लू बी.आर नेगी, प्रधान ग्राम पंचायत पलचान कौशल्या देवी, मनाली  पंचायत की प्रधान मोनिका, प्रीणी की प्रधान कल्पना आचार्य, बशिष्ठ की प्रधान लज्जा देवी, चचोगा की प्रधान दीक्षा, बुरूआ पंचायत के प्रधान चूड़ामणी, शनाग के रोशन लाल, शलींण के उप प्रधान रत्न चंद के अतिरिक्त अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *