13 गैस एजेंसियों के माध्यम से 6.39 लाख गैस सिलैंडरों की नियमित रूप आपूर्ति

इस खबर को सुनें

सुरभि न्यूज़ कुल्लू। खाद्य नाागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग द्वारा संचालित की जा रही सार्वजनिक वितरण प्रणाली बीपीएल परिवारों सहित अन्य सभी सभी राशनकार्ड धारकों के लिए वरदान सावित हुई है। योजना के तहतत जिला में 449 उचित मूल्य की दुकानों तथा 10  शाखाओं के माध्यम से उपभोक्ताओं को हर माह सस्ती दरों पर गुणवत्तायुक्त राशन की उपलब्धता को सुनिश्चित किया गया है।   जिला कुल्लू में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत वर्तमान वित्त वर्ष के दौरान माह अप्रैल से नवम्बर तक 24 हजार 63 गरीबी रेखा से नीचे गुजर-बसर करने वाले तथा एपीएल परिवारों को 60 करोड़ 24 लाख 56 हजार 935 रूपए के आटा तथा चावल उचित मूल्य की दुकानों के माध्यम से वितरित किए गए। इसके अतिरिक्त हिमाचल  प्रदेश राज्य उपदान योजना के तहत 5 हजार 298 परिवारों को 45 करोड़ 93 लाख 685 रूपए मूल्य की उपदान दरों पर चीनी, दालें, तेल तथा नमक भी वितरित किए गए।  जिला में 449 उचित मूल्य की दुकानें तथा 10  इसकी शाखाएं कार्यरत हैं जिनमें से  201 उचित मूल्य की दुकानों को सहकारी सभाओं द्वारा संचालित किया जा रहा है। इसी प्रकार 238 उचित मूल्य की दुकानों को व्यक्तिगत तौर पर, 6 को ग्राम पंचायतों द्वारा, 4 को महिला मंडलों  द्वारा संचालित किया जा रहा है। निरीक्षण की इसी प्रक्रिया के तहत जिला में विभागीय अधिकारियों द्वारा  माह अप्रैल से नवम्बर, 2021 तक 998 निरीक्षण किए गए। इस दौरान अनियमितता पाए जाने पर 63 हजार 500 रूपए की प्रतिभूति राशि जब्त करने के अतिरिक्त 17 हजार 321  रूपए की खद्यान्नों की मूल्यांतर राशि भी वसूल की गई। इस दौरान 41 अनियमितताएं पाई गईं तथा 3 अन्य मामलों में चेतावनी दी गई। जिला कुल्लू में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत  माह अप्रैल से नवम्बर, 2021 तक विभाग द्वारा खाद्यान्नों/ जिसमें गन्दम आटा, चावल, गन्दम, चीनी, सरसों तेल, रिफाईड, दाल चना, दाल उड़द, दाल मलका, दाल मूंग तथा नमक के 108 नमूने गोदामों तथा उचित मूल्य की दुकानों से एकत्रित कर विश्लेषण हेतु निदेशालय स्थित प्रयोगशाला भेजे गए जिसमें से 105 नमूने भारत सरकार द्वारा निर्धारित मापदंडों के अनुरूप सही पाए गए। जिला कुल्लू में वर्तमान में में 13 गैस एजेंसियां कार्यरत हैं जिनमें से 6 गैस एजंेसियां आईओसीएल यानी इंडियन आॅयल काॅर्पोरेशन लिमिटड द्वारा संचालित की जा रही हैं जबकि 5 बीपीसीएल तथा दो गैस एजेंसियां एचपीसीएल द्वारा संचालित की जा रही है जो 1 लाख 50 हजार 753 गैस उपभोक्ताओं को नियमित रूप से गैस सिलैंडरों की आपूर्ति सुनिश्चित कर रही हैं। जिला में  इस वर्ष  माह अप्रैल से नवम्बर तक इन गैस एजेंसियों द्वारा कुल 6 लाख 39 हजार 717 उपभोक्ताओं को गैस सिलैंडरों की आपूर्ति की गई है। इनमें से 59 हजार 971 उपभोक्ता सिंगल बैरल कुनैक्शन तथा 90 हजार 782 उपभोक्ताओं की डीबीसी यानी डबल बैरल सिलैंडर की सुविधा उपलब्ध है। जिला में आईओसीएल के तहत एसबीसी के 17 हजार 983 उपभोक्ता, डीबीसी के 49 हजार 990 उपभोक्ता पंजीकृत हैं। इसी प्रकार बीपीसीएल के पास जिला में एसबीसी तथा डीबीसी की सुविधा वाले 51 हजार 125 उपभोक्ता पंजीकृत हैं। इसी प्रकार एचपीसीएल के पास एसबीसी तथा डीबीसी के कुल 27 हजार 43 उपभोक्ता पंजीकृत हैं जिन्हें गैस सिलैंडरों की समय-समय पर आपूर्ति कर सुविधा प्रदान की जा रही है।इस वर्ष अप्रैल माह में यह प्रतिशतता 36.72 थी जिसे माह नवम्बर तक अढ़ाई गुणा बढ़ाया गया है। इसके अतिरिक्त जिला में विभिन्न स्थानों पर जिला प्रशासन द्वारा लोगों की आवश्यकतानुसार नई उचित मूल्य की दुकानें भी खोली जा रही हैं ताकि लोगों को अधिक पैदल सफर तय न करना पड़े और उन्हें घर-द्वार के नजदीक ही उचित मूल्य की दुकानों के माध्यम से सस्ती दरों व समय पर राशन उपलब्ध हो सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *