जिला के सभी स्कूलों में 15 से 18 वर्ष के बच्चों को 3 जनवरी से लगेगी कोविन वैक्सीन

इस खबर को सुनें

सुरभि न्यूज़ कुल्लू। जिला कुल्लू में 3 जनवरी, 2022 से सभी स्कूलों में 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों को कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर कोविन वैक्सीन लगाई जाएगी। स्कूलों में अध्ययनरत ऐसे सभी छात्र जिनका जन्म 31 दिसम्बर 2007 से पहले का हो, कोरोना वैक्सीन कोविन के लिए पात्र होंगे। स्कूलों में बच्चों को कोविन वैक्सीनेशन के लिए अभिभावक अपने बच्चों के साथ आने को प्राथमिकता प्रदान करें। आज मुख्य सचिव हिमाचल प्रदेश राम सुभग सिंह ने शिमला से वीडियो कांफ्रैसिंग के माध्यम से यह बात कही। जिला कुल्लू से वीडियो कांफ्रैसिंग के माध्यम से अतिरिक्त उपायुक्त शिवम प्रताप सिंह तथा अन्य अधिकारी एनआईसी सैंटर कुल्लू से जुड़े। मुख्य सचिव ने बताया कि कलस्टर में 5 या इससे अधिक मामले आने पर उस क्षेत्र में तत्काल कंटेनमैंट जोन स्थापित किए जाएं। अस्पतालों में ऑक्सीजन, बैडस, इवाईयों की पहले से तैयारियों को अंजाम दें तथा  सम्बंधित उपायुक्त मुख्य चिकित्सा अधिकारी के साथ जिला के स्वास्थ्य संस्थानों में इन सुविधाओं का स्वयं निरीक्षण करना सुनिश्चित करें।किसी भी अंतर्राष्ट्रीय टैबलर की आरटीपीसीआर रिपोर्ट  पॉजीटिव आने पर बिना देरी किए उसे ओमीका्रॅन माना जाए। जिला में 22 हजार 929 छात्रों को वैक्सीनेशन करने का लक्ष्य प्रदान किया गया है। सरकारी स्कूलों में 17 हजार तथा प्राईवेट स्कूलों में 3 हजार छात्रों को कोविन वैक्सीनेशन दी जाएगी। इसके साथ आईटीआई में छात्रों की संख्या को लेकर कार्य किया जा रहा है। जिला कुलू में सभी राजकीय उच्च तथा वरिष्ठ माध्यमिक पाठशालाओं में 15 से 18 वर्ष के छात्रों को वैक्सीनेश्न की व्यवस्था की जाएगी। उप निदेशक (उच्चतर शिक्षा) को निर्देश दिए गए कि वह जिला के सभी स्कूलों में प्रिसीपलों के माध्यम से बच्चों को समय पर सूचित कर दें ताकि बच्चों को समय पर वैक्सीनेशन दी जा सके और उन्हें कोरोना संक्रमण तथा इसके किसी भी वैरियंट से संक्रमित होन से बचाया जा सके। इसके अतिरिक्त प्रवासी मजदूर तथा ऐसे बच्चे जो किसी दूसरी जगह से आकर गांव में ठहरे हों,  वे भी इन स्कूलों में आकर कोविन वैक्सीनशन की डोज लगवा सकते हैं। अभिभावक स्कूलों में बच्चों को कोविन वैक्सीनेशन लगवाने के दौरान अपने बच्चों केे साथ आने को प्राथमिकता प्रदान करें। जिला कुल्लू में वर्तमान में 6 ही कोरोना के सक्रिय मामले हैं तथा प्रतिदिन सैंपलिंग को भी बढ़ाकर 300 किया गया है। जिला में 90 इंटरनेशनल ट्रेबलर हैं तथा 2 जनवरी, 2022 को 15 सैंपल जीनोम सिक्योंसिंग के लिए भेजे जाएंगे।इस दौरान अतिरिक्त उपायुक्त शिवम प्रताप सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. सुशील चंद्र शर्मा, उप शिक्षा निदेशक (उच्चतर) शांति लाल शर्मा,  जिला कार्यक्रम अधिकारी राज कुमारी, डा. अतुल गुप्ता तथा अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *