विश्व दिव्यांगजन दिवस पर एक कार्यक्रम का आयोजन

इस खबर को सुनें
सुरभि न्यूज़ केलांग। विश्व दिव्यांगजन दिवस पर एक कार्यक्रम का आयोजन जनजातीय संग्रहालय सभागार में किया गया जिसमें मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ मदंबन्धु मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। कार्यक्रम के आरम्भ में तहसील कल्याण अधिकारी राजेश ठाकुर  ने दिव्यांगजनों के कल्याण एवं सहायतार्थ बनाये गई योजनाओं पर जानकारी देते हुए बताया कि दिव्यांगजनों के सशक्तिकरण हेतु सरकार द्वारा कई योजनाएं और कार्यक्रम चलाये जा रहे है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ मदंबन्धु ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय दिव्यांगजन दिवस प्रतिवर्ष 03 दिसंबर को मनाया जाता है. इसका मुख्य उद्देश्य समाज में गजनों का विकास सुनिश्चित करना है. इस दिवस को मनाने के पीछे दिव्यांगता को सामाजिक कलंक मानने की धारणा से लोगों को दूर करने का प्रयास है. हर वर्ष दुनिया के तमाम देशों में 3 दिसंबर को दिव्यांगों के उत्थान, उनके स्वास्थ्य व सामाजिक-आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के उद्देश्य से कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। यह दिवस ऐसे में लोगों में दिव्यांगता मामले की समझ बढ़ाने, दिव्यांगजनों के सामाजिक सम्मान की स्थापना, उनके अधिकारों एवं कल्याण पर ध्यान केंद्रित कराने के उद्देश्यों हेतु काफी ही अहम है। ज़िला बाल संरक्षण अधिकारी डॉ हीरानन्द ने कहा संयुक्त राष्ट्र प्रत्येक साल दिव्यांग लोगों के प्रति सामाजिक जागरूकता के उद्देश्य से 03 दिंसबर को ‘विश्व दिव्यांग दिवस’ मनाता है. प्रत्येक साल इस दिवस से संबंधित अलग-अलग थीम रखी जाती है। इस साल दिव्यांग दिवस की थीम  पूर्ण सहभागिता और समानता है। ज़िला कल्याण अधिकारी ख़ुशविन्दर सिंह ने मुख्यातिथि सहित सभी लोगों का आभार प्रकट किया। इस अवसर पर  भाषण एवं चित्रकला प्रतियोगिता व समूह नृत्य का आयोजन किया गया, भाषण में केंद्रीय विद्यालय की अनुष्का, निनिशा क्रमशः प्रथम व द्वीतीय एवं कनिका व आसिता संयुक्त रूप से  तृतीय स्थान पर रहे। चित्रकला प्रतियोगिता में सोनम, पूनम व नवांग क्रमशः प्रथम, द्वीतीय व तृतीय स्थान पर रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *