लदाख ने जीती नौवीं राष्ट्रीय महिला आईस हाॅकी चैपियनशिप, चंडीगढ़ रही उप विजेता

इस खबर को सुनें

सुरभि न्यूज़ काज़ा। नौवीं राष्ट्रीय महिला आईस हाॅकी चैपियनशिप 2022 वीरवार को आईस हाॅकी रिंक काजा में सम्पन्न हुई। इस समापन समारोह में बतौर मुख्यातिथि आईस हाॅकी एसोसियेशन आफ इंडिया के महासचिव हरजिंद्र सिंह जींदी ने शिरकत की। वहीं कार्यक्रम को विशेष तौर पर वीडियो के माध्यम केंद्रीय सूचना प्रसारण एंव खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने संबोधित किया। केंद्रीय मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने अपने वीडियो मैसेज के माध्यम से कहा कि मैं आइस हाॅकी ऐसोसियेशन आॅफ इंडिया और लाहुल स्पिति को बहुत बधाई देना चाहता हूं जिन्होंने शानदार राष्ट्रीय महिला आइस हाॅकी चैपियनशिप 2022 का सफल आयोजन किया। इसमें हमारे युवा खिलाड़ियों को खेलने का अवसर भी मिला। लाहुल स्पिति बहुत खूबसूरत इलाका भी है और जब बर्फ की चादर ओढ़े हुए होता है तो ओर भी खूबसूरत लगता है। मैं डा राम लाल मारकण्डा और सारी टीम और एसोसियेशन को बहुत बहुत शुभकामनाएं और बधाई देना चाहता हूं। यहां पर हाई एल्टीटयूड स्पोटर्स सैंटर यहां बनने जा रहा है। उसमें आईस हाॅकी रिंक होगा। यहां पर हमारे बेटी बेटियों को खेलने का और प्रशिक्षण लेने का अवसर मिलेगा़। भविष्य में देश और प्रदेश के लिए मैडल जितने के अवसर भी मिलेंगे।आईस हाॅकी में सुविधाएं कम थी उसके बावजूद हमारे यहां के बेटे बेटियों ने शानदार  प्रदर्शन किया है।हमारा प्रयास रहेगा कि हम लगातार आपके लिए सुविधाओं में सुधार करते रहे ताकि आपको अच्छा प्रशिक्षण मिले और भारत के लिए मैडल जीत सकें। मैं व्यक्तिगत रूप से आना चाहता था। लेकिन आपको ये वीडियो लखनउ से रिकार्ड करके भेज रहां हुं।आने वाले सालों में आपके बीच में अवश्य आउंगा ताकि आपके खेल को देखने का मौका मिले और आधारभूत ढांचा मुहैया करवाने का अवसर मिले। इसके बाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यातिथि हरजिंद्र सिंह जींदी ने कहा कि पहली बार स्पीति में इस आयोजन का मौका मिला।  स्पिति प्रशासन और आईस हाॅकी ऐसोसियेशन आफ लाहुल स्पिति ने काफी सहयोग दिया। मैं सभी खिलाड़ियों को बधाई देता हूं  जिनकी वजह से चैंपियनशिप सम्पन्न हुई है। जो टीम हार गई उसे अपना मनोबल नहीं खोना है बल्कि फिर से अभ्यास करके जीत के लिए कोशिश करनी है। वो दिन दूर नहीं जब ओलपिक में भारत आईस हाॅकी में मैडल लेकर इतिहास रचेगा। हमारी बेटियां किसी से कम नहीं है। वहीं एडीएम मोहन दत शर्मा ने आईस हाॅकी एसोसियेशन आफ इंडिया का विशेष आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि एसोसियेशन के कारण ही हमें इस आयोजन की मेजबानी करने का अवसर मिला। हमें उम्मीद है कि कुछ सालों में विंटर ओलपिंक स्पिति में होंगी। ताकि यहां के पर्यटन और आर्थिकी को नए पंख लग सके। इस मौके पर सभी विभागों के विभागाध्यक्ष और खिलाड़ी विशेष तौर पर मौजूद रहे।

यह रही विजेता टीम राष्ट्रीय महिला आइस हाॅकी चैपियनशिप 2022 के समापन समारोह में विजेता केंद्रीय शासित प्रदेश लदाख की टीम रही। इस टीम को स्वर्ण पदक देकर एडीएम मोहन दत शर्मा ने सम्मानित किया। वहीं विजेता टीम को ट्राफी आईस हाॅकी एसोसियेशन आफ इंडिया के महासचिव हरजिंद्र जींदी ने दी। वहीं उप विजेता टीम चंडीगढ़ की रही। जिसे सिल्वर मैडल मिला। आईटीबीपी 17 वीं बटालियन के कमाडेंट देवेंद्र कुमार ने उप विजेता टीम को रजत मैडल पहनाकर सम्मानित किया। वहीं उप विजेता टीम को ट्राफी महासचिव हरजिंद्र जींदी ने दी। इसके साथ ही आईस हाॅकी एसोसियेशन आफ हिमाचल प्रदेश के अध्यक्ष अभय डोगरा और महासचिव रजत मल्होत्रा ने दिल्ली की टीम को  तीसरा स्थान हासिल करने पर कांस्य पदक देकर सम्मानित किया। वहीं चैपियनशिप में हिस्सा लेने वाले सभी खिलाड़ियों को आईस हाॅकी एसोसियेशन आफ इंडिया की तरह से सर्टिफिकेट भी वितरित किए गए। वहीं करमा यीशे खांडो के नाम से शुरू हुए बेस्ट प्लेयर अवार्ड को दिया गया। इस बार दो स्पिति की खिलाड़ियों में यह अवार्ड दिया गया जिनमें कुलिंग गांव की रहने वाली जर्सी नंबर 1 थिनले बाग्मो और शलखर गांव की रहने वाली जर्सी नंबर आठ रिगजिन डोलमा शामिल है। इन्हें भी किया गया सम्मानित टेक्निकल कमेटी में अमित बेलबाल, छेवांग ज्ञालसन, कोच के तौर पर नूर जहां, छेवांग चुस्कित, रिचिंन डोल्मा, आशु, सहायक रेफरी प्रणव डोगरा, अभिमन्यू, स्थानीय सहयोग स्टाफ के तौर पर डीपी को सम्मानित किया गया। इनमें नवांग लोट, सोनम, सुल्डिम, अंगदुई, नोरबू, बादशाह, केशंग, सोनम, लोबजंग, केसंग का नाम शामिल रहा। वहीं एसोसियेशन के युवा टशी, जाॅन्टी, केपी, गोन्पो छेरिंग,  छवांग केसंग,  कुंगा नोरबू, सोनम टाशी, सुशील, नवांग टाकपा, सोनम तंडुप, डोगरा स्काउट कमल नेगी, रिंक के रखरखाव के लिए टशी और उनकी पांच सदस्यीय टीम, टेक्सी यूनियन के प्रधान केसंग रापचिक, लोक निर्माण विभाग की 33 सदस्यीय टीम, आइपीएच के तीन सदस्य, रिफे्रशमेंट और लंच के लिए नवांग और उनका परिवार, सभी विभागाध्यक्ष को सम्मानित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *