क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू में विश्व हैपेटाइटिस दिवस का कियाआयोजन

इस खबर को सुनें

सुरभि न्यूज़
कुल्लू

विश्व हैपेटाइटिस दिवस को आयोजन क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुशील चन्द्र शर्मा की अध्यक्षता किया गया। उन्होंने  संबोधित करते हुए कहा कि हैपेटाइटिस ए.,बी, सी, डी. ई पांच प्रकार का होता है जिसमें हैपेटाइटिस-ए अल्कोहल से संबंधित होता है, बी. और सी खून की संबंधित होता है तथा डी दवाईयों से संबंधित होता है। डॉ. सुशील चन्द्र ने कहा कि यकृत यानि लिवर में संक्रमण के होने से यकृत कैंसर तक होने का खतरा बढ़ जाता है। हैपेटाइटिस लिवर की एक गंभीर बीमारी है जो अनेक प्रकार के वायरस से होता है। हैपेटाइटिस का संक्रमण रोकने के लिये इसका टीकाकरण करवाना सबसे अच्छा तरीका है। इसके लिये हाथ धोने के तौर तरीकों का उपयोग भी बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि हैपेटाइटिस बीमारी के बारे में आम जनमानस को जानकारी होना जरूरी है। इसके लिये समय-समय पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा गांवों में शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। इस अवसर पर एक प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया जिसमें ए.एन.एम. की छात्राओं ने भाग लिया। प्रतियोगिता में अनुपमा प्रथम रही, बैशाली द्वितीय व कुसुमा तृतीय स्थान पर रही जबकि अमीशा को सांत्वना पुरस्कार प्रदान किया गया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने विजेताओं को पुरस्कार विततिर किये। इस अवसर पर जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अंगरूप दोरजे, जिला कार्यक्रम अधिकारी डॉ. उषा शर्मा तथा स्वास्थ्य शिक्षिका निर्मला महंत सहित अनेक अन्य लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *