जिला कुल्लू के आनी में भाजपा के ‘सुक्खू भाई,10 गारन्टीयां किथे पाई’ के नारों से गुंजा 

इस खबर को सुनें

सुरभि न्यूज़

आनी

 

आनी विधानसभा क्षेत्र के विधायक लोकेंद्र कुमार ने आनी के पुराना बस स्टैंड में एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि आनी कांग्रेस के दो धड़ों के नेताओं द्वारा आनी विधानसभा क्षेत्र की जनता के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है, जिसे किसी भी कीमत पर सहन नहीं किया जाएगा। जिसके बाद भाजपा ने एसडीएम के माध्यम से राज्यपाल को एक ज्ञापन भी भेजा।

इससे पहले भाजपा मंडल आनी की एक बैठक मंडलाध्यक्ष योगेश भार्गव के नेतृत्व में दुर्गा माता मंदिर सराय भवन आनी में आयोजित हुई।जिसमें मौजूद भाजपा कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस की प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों, आनी विधानसभा क्षेत्र की नजरअंदाजी के खिलाफ रोष प्रकट किया। जिसके विरोध में भाजपा ने रैली निकालते हुए प्रदेश कॉंग्रेस सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

विधायक लोकेंद्र कुमार ने कहा कि आनी कांग्रेस कर्मचारियों की ट्रांसफरों में लगी है, एक गुट खुद को मुख्यमंत्री का नजदीकी बताता है और तबादला करवाता है, जबकि दूसरा गुट उसे रुकवाता है। यह ट्रांसफर का धंधा इतना चला कि मुख्यमंत्री को ट्रांसफरों पर ही रोक लगानी पड़ी।जबकि आनी विधानसभा क्षेत्र की जनता को क्या समस्याएं हैं, इसकी जानकारी तक आनी के तथाकथित कांग्रेसी नेताओं को नहीं है।

आनी विधानसभा क्षेत्र के जाओं, ठारवा, जुआगी से लेकर रघुपुर, जलोड़ी क्षेत्र की कई सड़कें आपदा के 5 माह बाद भी बन्द हैं। आनी से अमरबाग बुहानबिल दलाश सड़क मार्ग सहित 10 रूटों पर बसें या तो जा नहीं रही या आधे रूट तक जा रही है जबकि पीडब्ल्यूडी मिनिस्टर कहते हैं सारी सड़कें खुल चुकी हैं।

लोकेंद्र कुमार ने इशारों इशारों में आनी के नए बस अड्डे के पास आपदा में हुए नुकसान के बाद हो रहे काम को लेकर कहा कि आनी में आपदा भ्रष्टाचार का अड्डा बन गया है, जिसका मुद्दा विधानसभा सत्र में भी गूंजेगा। उन्होंने कहा कि आनी विस क्षेत्र में दलगत राजनीति का खेल खेलकर आपदा की राहत राशि बंदरबांट से बांटी गई है। भाजपा कार्यकर्ता का शवाड में मकान ढह गया उसे सुरक्षित बताया गया, जबकि कइयों की डैमेज रिपोर्ट बिना जायजा लिए काटी गई और अब कुल्लू जिला के 1800 मामलों की राहत राशि रोक दी गयी है।

इसके अलावा निर्वाचन क्षेत्र में सारे विकास कार्य ठप पड़े हैं, अस्पताल हो या सरकारी कार्यालय दर्जनों पद खाली हैं, कानून व्यवस्था चरमराई हुई है, निरमण्ड थाने में ही एक माह में 3 मर्डर के मामले दर्ज हुए हैं। चिट्टे के नशे के युवा आदि हो रहे हैं। सरकारी विभागों में कई अधिकारी और कर्मचारी अपने कामों में कोताही और अनियमितता बरत रहे हैं।

विधायक लोकेंद्र कुमार ने चेताया है कि अगर ऐसे कर्मचारियों, अधिकारियों ने अगर सुधार न किया तो उनके ही विभागों के बाहर बैठकर उग्र प्रदर्शन किया जायेगा।

इससे पूर्व मंडलाध्यक्ष योगेश भार्गव ने 10 गारंटियों के मामले पर प्रदेश सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि न तो 80 रुपये किलो दूध खरीदा गया तथा न गोबर और न ही महिलाओं के खातों में 1500 रुपये आये। इस अवसर पर शशि मल्होत्रा, वेद ठाकुर, सत्येंद्र शर्मा, जमुना ठाकुर, कैलाश ब्रामटा, आशीष शर्मा सहित भाजपा मंडल आनी के सभी कार्यकर्ता शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *