उपायुक्त ने किया खड़ामुख-भरमौर-हड़सर सड़क किनारे पौधारोपण अभियान का शुभारंभ

इस खबर को सुनें

सुरभि न्यूज़ चंबा। उपायुक्त चंबा डीसी राणा ने कहा की प्रकृति और पर्यावरण की रक्षा करना हमारे लिए नितांत आवश्यक है। पर्यावरण संरक्षण के लिए सभी लोगों का योगदान जरूरी है ।यह बात आज उपायुक्त ने वन मंडल भरमौर द्वारा श्रमदान-सड़क के किनारे पौधारोपण अभियान के तहत लाहल में आयोजित पौधरोपण कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करते हुए कही। उपायुक्त चंबा ने चिनार का पौधा रोप कर इस अभियान का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि वन मंडल भरमौर द्वारा सड़क के किनारे पौधारोपण के तहत उच्च मार्ग खड़ामुख-भरमौर-हड़सर तक लगभग 30 किलोमीटर सड़क के किनारे 2 दिन का पौधारोपण अभियान चलाया है। इस अभियान में प्रशासनिक अधिकारी, सरकारी संस्थाएं, स्वयंसेवी संस्थाएं, पुलिस विभाग, डॉक्टर, महिला मंडल, युवक मंडल व सभी हाइड्रोप्रोजेक्ट समेत स्थानीय लोगों को भी शामिल किया जाएगा। पौधारोपण के लिए लोग अपनी इच्छा से 30 किलोमीटर के हिस्से में कोई भी जगह चुन सकते है जो भी व्यक्ति पौधा रोपित करेगा उस पौधे के ट्री गार्ड के साथ नाम की पट्टिका भी अंकित की जाएगी। के साथ पौधे की बढ़ोतरी की जानकारी के साथ फोटोग्राफ भी शेयर किए जाएंगे और पौधरोपण अभियान में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाली संस्था या समूह को वन विभाग द्वारा हर वर्ष वन महोत्सव के दौरान सम्मानित भी किया जाएगा। उपायुक्त ने वन मंडल अधिकारी भरमौर सन्नी वर्मा के इस सराहनीय कदम की प्रशंसा की। डीसी राणा ने कहा कि पर्यटन विभाग के साथ कटोरी बंगला से मैहला तक सड़क को एक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने का प्रस्ताव बनाया है जिसमें सड़क के किनारे पौधारोपण किया जाएगा और उसमें कुछ ऐसे स्थान भी चिन्हित किए हैं जहां पर सड़क के किनारे शौचालय, बैठने की जगह, गाड़ी लगाने की व्यवस्था होगी। उन्होंने यह भी कहा कि इस साल से ही सड़क के किनारे पौधारोपण अभियान को आरंभ कर दिया गया है जिसके तहत 27 जुलाई को वन मंडल डलहौजी द्वारा सड़क किनारे पौधारोपण का अभियान चलाया गया ढूंडियारा बंगला के पास चार चिन्हित स्थलों पर पौधारोपण किया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि पिछले साल सर्दियों में चिनार के भी लगभग 500 पौधे चंबा शहर के आसपास लगाए गए थे और 2500 के लगभग और पौधे तैयार किए जा रहे हैं जिनको इस साल ही चिन्हित पर्यटन स्थलों के आसपास लगाया जाएगा। उन्होंने कहा कि चिनार एक ऐसा पौधा है जो पर्यटन स्थल की शोभा बढ़ाता है। उन्होंने यह भी कहा कि सड़कों के किनारों पर पौधारोपण करने से जहां एक और भूस्खलन की रोकथाम में भी सहायता मिलेगी और पर्यावरण संरक्षण के साथ-साथ हरित आवरण में भी वृद्धि दर्ज होगी। इस अवसर पर अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी भरमौर संजय धीमान, एसडीएम भरमौर मनीष सोनी व अन्य अधिकारी तथा गणमान्य लोगों ने भी पौधे रोपित किये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *