Featured Video Play Icon

लाहौल स्पीति के नाल्डा नाम की जगह में भूस्खलन होने से चंद्रभागा नदी का बहाव हुआ अवरुद्ध

इस खबर को सुनें

सुरभि न्यूज़ लाहुल स्पीति। लाहौल स्पीति जिले के पट्टन घाटी में नाल्डा के समीप अचानक पहाड़ी दरककर चंद्रभागा नदी में जा गिरा है। इससे चंद्रभागा नदी का बहाव रुक जाने के कारण पिछली तरफ पढ़ने वाले बगल के जसरथ और हालिंग गांव को पूरी तरह से खतरा बढ़ गया है झील में लगातार पानी बढ़ना शुरू हो गया है मौके पर हालांकि पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों की ओर से राहत एवं बचाव कार्य करने के लिए टीम भेजी गई है लेकिन अभी तक क्योंकि झील लगातार ऊंची होती जा रही है ऐसे में इसका तुरंत से कोई ना कोई समाधान निकालना जरूरी है अन्यथा या बड़े हादसे का कारण बन सकती है। सुबह लगभग नौ बजे के समय पहाड़ी टूटने की आवाज समस्त पटन घाटी में सुनाई दी। पहाड़ी से मलबा लगातार टूटता जा रहा है और नदी के बहाव को लगभग 25 मिनट से रोके रखा है। नदी रुकने से जाहलमा से किलाड़ घाटी तक सड़क किनारे रह रहे लोगों को खतरा पैदा हो गया है। नदी का बहाव रुकने से जुंडा से जोबरंग की ओर नदी किनारे की जमीन पानी मे डूबने लगी है। जसरथ गांव के लोग अधिक खतरे में पड़ गए हैं। मूलतः चंद्रा और भागा दो नदियां तांदी में मिलती हैं। जम्मू कश्मीर में प्रवेश करते ही इसका नाम चंद्रभागा हो जाता है। गौरतलब है कि जुलाई और अगस्त में हिमाचल प्रदेश में कई प्राकृतिक आपदाएं आई हैं। किन्नौर में ही करीब दिनों के अंतराल में दो बड़े भूस्खलन हो चुके हैं। इस बीच लाहुल घाटी में भी बाढ़ जैसे दृश्य उत्पन्न हुए हैं। अभी तक मिली जानकारी के अनुसार नदी का बहाव जो अबरुद्ध हुआ था वह अब खुल चूका हे परन्तु पानी के बहाव अधिक होने से जह्लमा से आगे के नदी किनारे बसने वाले निवासियों को खतरा हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *