निरमण्ड के पोकधार में बागबानों ने लिया प्रूनिंग कटिंग का प्रशिक्षण

इस खबर को सुनें
सुरभि न्यूज़ आनी। ग्रीन इन्नोवेशन सेंटर इण्डिया के सौजन्य से निरमण्ड विकास खंड के तहत ग्राम पंचायत भालसी के  पोकधार में  बागवानों के लिए एक दिवसीय सेव की कटिंग और प्रूनिंग की नई तकनीक के विषय में एक दिवसीय जागरूकता शिविर का आयोजन राजेन्द्र शर्मा के बगीचे में किया गया। इस शिविर में क्षेत्र के करीब 60 किसानों ने भाग लिया। जिसमें किसान और बागवानो  को सेब  कटिंग के नए-नए गुर बताए गए। प्रोग्रेसिव ग्रोवर एसोसियेशन के महासचिव  राजेश खिमटा ने बागवानों को कटिंग व प्रूनिंग के गुर सिखाए। इस दौरान उन्होंने कहा कि हमें पुरानी तकनीक को छोड़कर नई तकनीक के साथ सेब के  पौधे की काट छांट करनी चाहिए। नई तरीके से सेब के पौधों की काट छांट करने से सेब के पौधों में बीमारियां कम लगेगी और उत्पादन अधिक होगा। खिमटा ने कहा कि बागवानों को सेंटर लीडर पर विशेष ध्यान रखना चाहिए। सेब के पेड़ में किसी तरह के कट लगाना व कैसे नई टेहनी निकाली है और पुराने वड को कैसे काटना चाहिए और नया बड कैसे तैयार करें इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अगर हम सेब के पौधों की गलत कटिंग और प्रूनिंग करेंगे तो उसका परिणाम आगामी 3 या 4 सालों तक भुगतना पड़ेगा। प्रगतिशील किसानों ने इस कटिंग प्रूनिंग के कैंप में काफी उत्साह दिखाई। इस अवसर पर फील्ड अफसर पवन जोशी के इलावा प्रगतिशील किसान राजेंद्र शर्मा ताराचंद शर्मा, सुशील शर्मा, सुरेश शर्मा, इंजीनियर जकेश्वर शर्मा, योगेश भार्गव, अरविन्द पाल, लोकेश शर्मा, धर्मपाल,  दिना नन्द, योगेश्वर दत्त, बालकराम कौशल, विजेंद्र शर्मा, मकालू वर्मा, दिवाकर शर्मा, हेम दिवाकर दत्ता, प्रदीप स्नेही तथा दीपक कुमार सहित दर्जनों वागवानों ने हिस्सा लिया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *