रायसन-कटर्राइं में बाढ़ नियंत्रण पर खर्च किये जा रहे हैं 9 करोड़: गोविंद ठाकुर

इस खबर को सुनें

पूजा ठाकुर कुल्लू। शिक्षा व कला, भाषा एवं संस्कृति मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने कहा कि ग्राम पंचायत कटराईं तथा रायसन में राज्य बजट से 9.08 करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत की गई है और 30 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है। मनाली विधान सभा क्षेत्र के मेहा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए  कहा कि ब्यास नदी पर ग्राम पंचायत कटराईं तथा 15 मील में बाढ़ नियंत्रण के लिये नाबार्ड से 994.06 लाख रुपये की एक अन्य डीपीआर स्वीकृति के लिये भेजी गई है। गोविंद ठाकुर ने कहा कि नग्गर, कटराईं तथा पतलीकूहल को मल निकासी योजना से जोड़ने के लिये 80 प्रतिशत सर्वेक्षण पूरा कर लिया है तथा भूमि हस्तांरण की प्रक्रिया प्रगति पर है। जल शक्ति विभाग के निरीक्षण कुटीर तथा आवासीय कॉलोनी के लिये भी जगह का चयन कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि जल शक्ति विभाग के मण्डल कार्यालय निर्माण के लिये कटराईं में भूमि को चिन्हित कर लिया गया है और जल्द ही भवन का निर्माण कार्य आरंभ किया जाएगा। कटराईं में फायर हाईड्रैन्टस उपलब्ध करवाने के लिये 10.61 लाख रुपये स्वीकृत किये गये हैं। उन्होंने कहा कि 164 लाख रुपये की लागत से ग्राम पंचायत पांगन के विभिन्न गांवों के लिये जलापूर्ति योजना का कार्य पूरा की लिया गया है। मनाली तहसील की रियाड़ा पंचायत के विभिन्न गांवों के लिये 297.18 लाख रुपये लागत की जलापूर्ति योजना के संबर्धन की निविदा प्रक्रिया प्रगति पर है। दवाड़ा में बहाव सिंचाई योजना का 60 प्रतिशत कार्य पूरा कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत बराण, कटराईं तथा हलाण-दो में नाबार्ड के तहत जलापूर्ति योजना के सुधार एवं विस्तार का कार्य 558 लाख रुपये की लागत से किया जाना है। इसकी डीपीआर योजना विभाग में स्वीकृति केे लिये भेजी है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि बारी तथा बड़ाग्रां के लिये 713 लाख रुपये की बहाव सिंचाई योजना तैयार की गई है और इसकी डीपीआर स्वीकृति के लिये भेजी है। नाबार्ड के तहत 343 लाख लागत से ग्राम पंचायत बडाग्रां तथा जैण्डी बारी पतलीकूहल जलापूर्ति योजना के संवर्द्धन एवं सुधार की स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है। इसका कार्य जल्द आरंभ किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कशेरी नाला से शांगचर बहाव सिंचाई योजना के कैड कार्य आवंटित कर दिया गया है और प्रगति पर है। यह कार्य 200.38 लाख रुपये की लागत से पूरा किया जाएगा। दवाड़ा बहाव सिंचाई योजना का भी 60 फीसदी कार्य पूरा कर लिया गया है। गोविंद ठाकुर ने कहा कि मनाली विधानसभा क्षेत्र में कम वोल्टेज की समस्या का समाधान सभी जगहों पर तेजी के साथ किया जा रहा है। उनहोंने कहा कि भाटमेहा के 25 केवीए ट्रांसफार्मर की क्षमता को बढ़ाकर 63 केवीए किया गया है जिससे दो गांवों को लाभ पहुंचा है। इसी प्रकार कुमनसेरी के ट्रांसफार्मर की क्षमता को बढ़ाकर 63 केवीए किया गया है। गवाड़ गांव के लिये 11 केवी की नई लाईन विछाई गई है और 25 केवीए ट्रांसफार्मर रख दिया है। गवाड़ गांव में बिजली की समस्या का समाधान करने के लिये 18 लाख खर्च किये जा रहे हैं। पिछलीहार पंचायत के नेरी-रेगिन गांव में 25 केवीए का नया ट्रांसफार्मर स्थापित किया गया है और एचटी व एलटी लाईनें भी खडी की गई हैं जिनपर 8 लाख खर्च किये गय हैं। बगाणी तथा कुकडी में बिजली लाईनों पर आठ लाख खर्च किये गये हैं। उन्होंने कहा कि रूंगा गांव के लिये 25 केवीए ट्रांसफार्मर तथा नई बिजली लाईनों पर 12 लाख रुपये व्यय किये गये हैं। धलोगी तथा फोजल में नई लाईन पर 9 लाख खर्च किये गये हैं। शिक्षा मंत्री ने इस अवसर पर लोगों की समस्याएं भी सुनी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *