मौसम की बेरुखी में सावधानी बरतें बागवान, छिड़काव सारणी का करें अनुसरण – उत्तम पराशर 

इस खबर को सुनें
सुरभि न्यूज़
छविंदर शर्मा, आनी
वर्तमान में तापमान के उतार चढ़ाव एवं मौसम की बेरुखी के कारण बागवान सावधानी बरतें। विषयवाद विशेषज्ञ (उद्यान) आनी उत्तम पराशर ने बताया कि मौसम की बेरुखी के कारण सेब की फसल में विभिन्न रोगों के पनपने की समस्या बागवानों के सामने पेश आ रही है। जिसमें  स्कैब सहित पाउडरी मिलड्यू जैसे रोगों से बागवानों को परेशानी उठानी पड़ रही है। साथ ही माइट का खतरा भी बागवानों के सामने हैं। उन्होंने बताया कि इस समस्या से निपटने के लिए बागवान बागवानी विभाग की ओर से जारी छिड़काव सारणी (स्प्रे शैड्यूल) के हिसाब से छिड़काव करें।
एसएमएस का कहना है कि यह समय बागवानों के लिए सबे की फसल के हिसाब से अति महत्वपूर्ण हैं। ऐसे में उक्त बीमारियों से सेब की फसल को बचाने के लिए वैज्ञानिक तरीके से छिड़काव आवश्यक हो जाता है। अन्यथा सेब की फसल बर्बाद होने का खतरा भी रहता है। इसलिए जिन बागवानों के बागीचों में ये बीमारियां दिख रही हैं वह तुरंत विभाग की छिड़काव सारणी का अनुसरण कर फसल को बचाएं।
उनका कहना है कि इन दिनों उक्त बीमारियां बागीचों में देखने को मिल रही है या आने वाले दिनों में फसल में लग सकती हैं। इस तरह की समस्याओं से निपटने के लिए संबंधित फील्ड को दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। यदि किसी बागवान को इस प्रकार की समस्या पेश आ रही है तो वह उद्यान विकास अधिकारी आनी, निरमंड सहित अन्य विभागीय विस्तार केंद्रों पर तकनीकि अधिकारियों से संपर्क करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *