छोटाभंगाल तथा चौहार घाटी के पर्यटक स्थल बार–बार आने को करते है मजबूर

इस खबर को सुनें

सुरभि न्यूज़

ख़ुशी राम ठाकुर, बरोट

जिला कांगड़ा के छोटाभंगाल तथा जिला मंडी की चौहार घाटी तेज़ी से उभरते प्रसिद्ध पर्यटन स्थल मुल्थान तथा बरोट में
आजकल पर्यटकों की काफी भीड़ देखने को मिल रही है। यंहा के होम स्टे, गेस्ट हाउसों व रेस्ट हाउसों तथा सरकारी व गैर सरकारी होटलों में प्रदेश व अन्य राज्यों के पर्यटक बुकिंग कर ठहरे हुए है। पर्यटक प्राकृतिक सुन्दर वादियों का अवलोकं कर अपने कैमरों में कैद कर रहे है तथा यहां की प्रक्रितक सुन्दरता कायल हो रहे हैं। बेशख सरकार ने दोनों क्षेत्रों के पर्यटक स्थलों के विकसित करने के लिए कोई भी दिलचस्पी नहीं दिखाई है मगर यहाँ के प्रसिद्द पर्यटन स्थल बरोट, मुल्थान, राजगुन्धा, पलाचक, पनिहारटू, झटिंगरी व फुलाधार आदि देश व विदेशों से आने वाले पर्यटकों की पसंदीदा सैरगाह बन गई है।

फोटो – साभार

आजकल यहां आने वाले पर्यटक गर्मी से निजात पाने के लिए मुख्य उहल व लंबाडग नदियों के किनारे घंटो भर बैठकर
ठंडी फुवारों का भरपूर आनंद उठा रहे हैं। वहीं बरोट में दुर्गा माता मंदिर के समीप पंजाब राज्य बिजली बोर्ड द्वारा निर्मित पानी का फब्बारा से उठने वाली ऊँची ठंडी-ठंडी बुछारें बेहद रोमांचित करती हुई पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित कराती है। वहीँ कई शौकिन पर्यटक फब्बारे से गिरने वाली ठण्डी–ठंडी बुछारों में भीगकर खूब मस्ती करते हुए दिखाई दे रहे है।

फोटो – साभार

 

दोनों क्षेत्रों के पर्यटक स्थलों का प्राक्रतिक सुंदरता का भरपूर आनंद उठाने के साथ रूलिंग नाला, कोठी कोहड़, जीरों प्वाइंट तथा लोआई में प्राक्रतिक झरनों का खूब आनंद ले रहे है। वहीँ बरोट में पंजाब राज्य बिजली बोर्ड द्वारा कृत्रिम तौर से बनाए गए बड़े–बड़े दो जलाशयों को देखकर पर्यटक रोमांचित हो रहे हैं। बरोट में घुमने आए अमृतसर के परमजीत कौर, पविन्द्र कौर तथा लखविन्द्र सिंह ने बताया कि वे यहाँ पर गत कई वर्षों से घुमने के लिए आ रहे हैं, यहाँ की सुन्दर जगह बार–बार आने को मजबूर करती है।

फोटो – साभार

https://thesurbhinews.blogspot.com/2024/05/blog-post_25.html

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *