पंचायतों की लंबित पड़ी शिकायतों की जांच रिपोर्ट समय पर ना सौंपने पर चार्जशीट होंगे पंचायत निरीक्षक :आशुतोष गर्ग

इस खबर को सुनें

सुरभि न्यूज़ कुल्लू। ग्रामीण विकास विभाग एवं पंचायती राज योजनाओं की समीक्षा बैठक शुक्रवार को जिला मुख्यालय कुल्लू में स्थित जिला परिषद के बैठक हॉल में उपायुक्त कुल्लू आशुतोष गर्ग की अध्यक्षता में आयोजित की गई। इस समीक्षा बैठक में कुल्लू जिला के सभी 5 ब्लॉकों में पंचायती राज विभाग की ओर से चलाए जा रही महत्वपूर्ण योजनाओं एवं विकास कार्यों के बारे में विस्तार से चर्चा की गई। इस अवसर पर प्रोजेक्ट ऑफिसर डीआरडीए  सुरजीत सिंह ठाकुर ने उपायुक्त  को जिला में पंचायतों के माध्यम से चल रही योजनाओं एवं कार्य प्रणाली के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की। बैठक में प्रस्तावित मदों पर जानकारी प्राप्त करने के उपरांत उपायुक्त  ने इस संदर्भ में जरूरी दिशा निर्देश प्रदान किए।उपायुक्त  ने इस दौरान बी डी ओ आनी को डीएससी पोर्टल पर 20 तारीख तक पंजीकरण करने के दिशा निर्देश दिए तथा बी डी ओ बंजार को 14वें वित्त आयोग के तहत मिली रांची के उचित प्रबंधन के संबंध में आवश्यक निर्देश जारी किए। उपायुक्त  ने सभी ब्लॉक विकास अधिकारियों से डीएससी में पंजीकरण के संबंध में आ रही समस्याओं के बारे में जानकारी प्राप्त की तथा इस कार्य के लिए उपयुक्त इंटरनेट स्पीड सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए।उपायुक्त महोदय ने कोविड-१९ तथा डीपीडीटी के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त की। उपायुक्त  ने दिशा निर्देश जारी करते हुए कहा कि सभी पंचायतों की लंबित पड़ी शिकायतों की जांच रिपोर्ट समय पर उपलब्ध ना करवाने व इस मामले को गंभीरता से ना निपटाने पर संबंधित पंचायत निरीक्षकों को चार्जशीट किया जाएगा। उपायुक्त  ने ऑडिट रिकवरी के मामले में सभी पंचायत निरीक्षकों को 1 हफ्ते के भीतर रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा। जिला ग्रामीण विकास एजेंसी के प्रोजेक्ट ऑफिसर  सुरजीत सिंह ने जानकारी देते हुए कहा कि मनरेगा के तहत है कुल्लू जिला में वित्त वर्ष 2021 22 के तहत 15 सितंबर 2021 तक कुल 96891 जॉब कार्ड धारक है तथा इनमें से कुल 42659 परिवारों ने रोजगार की मांग की जिसके तहत कुल 36513 परिवारों को रोजगार उपलब्ध करवाया गया। उन्होंने कहा कि अगस्त 2021 तक प्रस्तावित व्यक्ति कार्य दिवस 591892 थे जबकि कुल व्यक्ति कार्य दिवस 1257011 उत्पन्न किए गए हैं। उन्होंने कहा कि 15/08/2021 तक जिला में चालू वित्त वर्ष में कुल 3687.51 लाख रुपए खर्च किए जा चुके हैं तथा इस समय जिला में कुल 14992 कार्य चल रहे हैं तथा 2608 कार्य पूर्ण किए जा चुके हैं।उपायुक्त कुल्लू  आशुतोष गर्ग ने एक पंचायत पांच काम योजना के तहत सभी पंचायत कनिष्ठ अभियंताओं को अगले 6 महीने के अंदर कोई पांच अच्छे कार्य निर्धारित कर उनकी रिपोर्ट जिला उपायुक्त कार्यालय को भेजने के निर्देश दिए। उपायुक्त  ने पंचवटी योजना को जल्द धरातल पर उतारने के संदर्भ में सभी ब्लॉक विकास अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए। उपायुक्त  ने कहा कि मुख्यमंत्री एक बिघा योजना के अंतर्गत वित्त वर्ष 2020-21 के तहत जिला में कुल 393.729 लाख रुपए की राशि खर्च की जा चुकी है, इसमें से सबसे अधिक राशि 314.517 लाख रुपए अनी ब्लॉक में खर्ची गई है। इस योजना के तहत अनी ब्लॉक में सबसे ज्यादा 627 कार्य शुरू किए गए हैं जिनमें से 6 कार्य पूरे किए जा चुके हैं इसके अलावा बंजार ब्लॉक में कुल 74 कार्य शुरू किए गए जिनमें से 13 कार्य पूर्ण किए जा चुके हैं। कुल्लू ब्लाक में कुल 59 कार्य शुरू किए गए जिनमें से 11 कार्य पूरे हो चुके हैं नगर ब्लॉक में इस योजना के तहत 28 कार्य शुरू किए गए जिनमें से 15 कार्य अभी तक पूरे किए जा चुके हैं, इसके अलावा निरमंड ब्लॉक में अभी तक कुल 45 कार्य शुरू किए गए जिनमें से एक भी कार्य पूरा नहीं किया गया है। उपायुक्त महोदय द्वारा निरमंड ब्लॉक में वित्त वर्ष 2020- 21 के तहत मुख्यमंत्री एक बिघा योजना में एक भी कार्य पूरा न करने के कारण जवाब तलब करने को कहा। इसी प्रकार से मुख्यमंत्री रूरल रिपेयर योजना के तहत कुल्लू जिला में कुल 65 कार्य स्वीकृत किए गए हैं जिनमें से 57 कार्य पूरे हो चुके हैं तथा 9 पर अभी कार्य चल रहा है। इस योजना के लिए कुल उपलब्ध धनराशि 155.03 लाख रुपए हैं जिनमें से 135.89 लाख रुपए खर्च किए जा चुके हैं। बैठक में सुजीत ठाकुर  द्वारा उपायुक्त महोदय को जिला में मनरेगा के तहत बन रही आंगनवाड़ी केंद्रों की स्थिति के बारे में अवगत करवाया गया। उन्होंने कहा कि इस समय कुल्लू जिला में कुल 4 आंगनवाड़ी केंद्र स्वीकृत किए गए हैं जिनमें से सभी चार आंगनवाड़ी केंद्रों का कार्य प्रगति पर है। इस संदर्भ में उपायुक्त महोदय ने सभी संबंधित कनिष्ठ अभियंताओं को निर्देश दिए कि वह आंगनवाड़ी केंद्र के लिए चयनित की गई भूमि की व्यवहारिकता संबंधी रिपोर्ट जल्द प्रस्तुत करें। उपायुक्त  ने सभी ब्लॉक विकास अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रधानमंत्री आवास योजना एवं मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत किए गए कार्यों की सफलता कहानी व डॉक्यूमेंट्री तैयार की जाए ताकि इन योजनाओं के बारे में जानकारी जरूरतमंद लोगों तक पहुंचाई जा सके। सुरजीत ठाकुर ने उपायुक्त  को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत वित्त वर्ष 2016-17 से अभी तक किए गए कार्यों की जानकारी देते हुए कहा कि कुल्लू जिला में वित्त वर्ष 2016-17 से लेकर अभी तक कुल 376 मामले स्वीकृत किए गए हैं जिनमें से 258 मामले पूर्ण किए जा चुके हैं तथा 118 मामलों पर अभी कार्य प्रगति पर है। इसी प्रकार मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत वर्ष 2020 21 के लिए जिला में कुल 38 मामले स्वीकृत किए गए जिनमें से 25 कार्य पूरे हो चुके हैं तथा 13 घरों का कार्य अभी प्रगति पर है।उपायुक्त  आशुतोष गर्ग ने सभी ब्लॉक विकास अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत जितने भी अयोग्य वह अपात्र लोग पंजीकृत है उनके नाम पंचायत भवनों में चस्पा किए जाए। अंत में उपायुक्त  ने सभी ब्लॉक विकास अधिकारियों को ब्लॉक स्तर पर चलाई जा रही प्रमुख योजनाओं को समय रहते पूरा करने के निर्देश दिए गए। उपायुक्त ने स्वच्छ भारत मिशन के तहत कुल्लू वह नग्गर द्वारा किए गए बेहतरीन कार्य की प्रशंसा भी की गई। इस बैठक में उपायुक्त महोदय आशुतोष गर्ग के अलावा अतिरिक्त उपायुक्त  कुल्लू  शिवम प्रताप सिंह, प्रोजेक्ट ऑफिसर डीआरडीए  सुरजीत ठाकुर, कुल्लू जिला के सभी 5 ब्लॉकों के ब्लॉक विकास अधिकारी तथा जिला के विभिन्न ब्लॉकों से आए पंचायत निरीक्षक, सहायक अभियंता व कनिष्ठ अभियंता आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *