विधायक प्रकाश राणा द्वार शानन विद्युत प्रोजेक्ट के हिमाचल को हस्तांतरण मामले का विधानसभा सत्र में उठाने का मिल रहा व्यापक जनसहयोग 

इस खबर को सुनें

सुरभि न्यूज़ (खुशी राम ठाकुर)  बरोट। विधान सभा क्षेत्र के विधायक प्रकाश राणा द्वार शानन विद्युत प्रोजेक्ट के हिमाचल को हस्तांतरण मामले का विधानसभा सत्र में उठाने को व्यापक जनसहयोग मिल रहा है।  सभी विचारधारा के लोग इस कदम को उठाने का जोरदार स्वागत कर रहे हैं।  ज्ञातव्य है कि पंजाब राज्य बिजली बोर्ड द्वारा तत्कालीन मंडी के राजा के साथ किए गए करार की समय अवधि वर्ष 2024 में समाप्त हो जाएगी फिर इस प्रोजेक्ट पर नाहक ही कुंडली जमाए बैठे पंजाब राज्य बिजली बोर्ड को इसे छोड़कर हिमाचल को वापिस करना होगा। विधानसभा सत्र में विधायक प्रकाश राणा द्वारा उठाए गए इस मामले के जवाब में विद्युत विभाग के मंत्री चौधरी सुख राम ने इस मामले को जायज़ बताते हुए कहा कि वर्ष 1966 में हुए पुनर्गठन के दौरान इस मामले की सही पैरवी न होने पर यह परियोजना पंजाब राज्य बिजली बोर्ड के पास ही रही।  जिसका इस पर कोई औचित्य न था।  प्रकाश राणा ने बताया कि हिमाचल के साथ इस अन्याय में उन्हें अगर सही फल न मिला तो वे न्यायालय की शरण में जाने से भी नहीं हिचकेंगे।  उधर लंबे समय से पंजाब राज्य बिजली बोर्ड प्रबंधन द्वारा बरोट क्षेत्र से किए जा रहे अन्याय के विरूद्ध न्यायालय की ह्सरन में गए भाजपा जिला कार्यकारिणी के के पूर्व महासचिव काहन चंद ने सरकार की इस पहल का स्वागत करते हुए स्थानीय सभी लोगों से पूरा समर्थन करने का आहवान किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *