राज्य कर एवं आबकारी विभाग ने मंडी में शराब ठेकेदार के सील किए ठेके, दो करोड़ लाइसेंस फीस नही हुई जमा

इस खबर को सुनें

सुरभि न्यूज़ ब्यूरो

मंडी, 03 मार्च 

राज्य कर एवं आबकारी विभाग ने कार्रवाई करते हुए मंडी में शराब ठेकेदार को कई नोटिस जारी करने पर भी दो करोड़ लाइसेंस फीस का भुगतान समय नहीं किया तो विभाग ने सीधे ठेकों को सील करने का काम शुरू कर दिया है। जिला मंडी में यूनिट दो और तीन के तहत आने वाले ठेकों की संख्या करीब 100 से उपर है। अभी विभाग ने सिर्फ कुछ ठेकों को ही सील किया है जबकि बाकी ठेकों को सील करने का क्रम जारी है।

मिली जानकारी के अनुसार शराब विक्रेता फर्म को जनवरी 2024 की लाइसेंस फीस नियमानुसार भरनी थी, लेकिन वह इसे अभी तक अदा नहीं कर पाई है। इस पर नियमानुसार विभागीय कार्रवाई करते हुए नोटिस जारी किए गए। इसके बावजूद फर्म की ओर से यह फीस अदा नहीं की गई। इस पर विभागीय संयुक्त आयुक्त ने आदेश जारी करने बाद विभागीय टीमों ने फील्ड में जाकर शराब ठेकों में मौजूद स्टॉक की गणना करने उपरांत नियमानुसार शराब ठेके को सील कर दिया। यह प्रक्रिया देर शाम तक जारी रहा।

शराब कारोबारियों का कहना है कि आपदा के दौरान शराब कारोबार प्रभावित हुआ था। इसे देखते हुए प्रदेश सरकार ने लाइसेंस फीस भरने में दो महीने की रियायत दी थी, लेकिन अब नए वित्तीय वर्ष को देखते हुए एक साथ फीस भरने का दबाव बनाया जा रहा है, जिस पर शराब कारोबारी रियायत की मांग कर रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि यूनिट की बोली लगाने के बाद तय धनराशि को हर माह लाइसेंस फीस के रूप में बोलीदाता को राज्य कर एवं आबकारी विभाग को जमा करवाना होता है। उधर, राज्य कर एवं आबकारी विभाग के संयुक्त आयुक्त विवेक महाजन ने बताया कि यूनिट दो व तीन की तरफ से जनवरी माह की लाइसेंस फीस न भरने पर कार्रवाई के आदेश जारी किए गए हैं। फर्म फीस भरकर शराब ठेके खुलवा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *